Have a question ? Contact us!

साल २०२० हम सभी के लिए बहुत परेशानी भरा रहा है। आइए नए आने वाले साल का नयी उम्मीदों के साथ स्वागत करते हैं, और देखते हैं यह नया साल कैसा होगा। ऐसे क्या उपाय हैं, जो हमें इस साल को बेहतरीन बनाने में मददगार साबित होंगे। मैं डॉ महिमा आप सभी को आपकी २०२१ राशि फल पूर्वानुमान बताने जा रही हूँ। ये पूर्वानुमान Moon Sign के अनुसार हैं।

 

२०२१: इस साल का योग है नंबर ५; और यह अंक है बुध का, बुध के स्वामी हैं परम पूज्य भगवान गणेश। इस वर्ष हम सभी के लिए भगवान गणेश की स्तुति करना लाभप्रद होगा। जैसा की हम सभी जानते हैं कि कोई भी पूजा पाठ, नया काम भगवान गणेश के बिना प्रारम्भ नहीं होता, वैसे ही इस नए वर्ष और आने वाले हर दिन की शुरुआत आप भगवान गणेश के आहवाहन से ही करें।  “ॐ गं गणपतये नमः” का जाप अवश्य करें। 

मेष राशि:

मेष राशि का स्वामी मंगल है, मंगल की इस समय दशा बहुत अच्छी है, शनि और गुरु दसवें घर में बैठे हुए हैं। गुरु की दृष्टि नीच की होने के कारण आपको प्रोफेशनल लाइफ में परेशानी आ सकती है लेकिन यह समय अप्रैल के बाद बदल जाएगा। क्यूंकि अप्रैल के बाद गुरु का कुंभ राशि में प्रवेश होगा, आप नए कार्य कर सकते हैं| प्रोफेशनल लाइफ के हिसाब से यह साल उत्तम रहेगा। अप्रैल-अक्टूबर के समय में नौकरी में पदोन्नति और अच्छे बदलाव की आकांशा है।अगर आप कोई नया काम शुरू करना चाहते हैं तो यह समय आपके लिए बहुत अच्छा रहेगा, आप जनवरी और फरवरी को छोड़कर यह करें। आपकी लव लाइफ भी बहुत अच्छी रहेगी आपको स्वयं का व आपके परिवारजनों की सेहत का ध्यान रखना है। आपकी संतान के लिए भी यह साल अच्छा रहेगा और आपके माता-पिता के लिए भी यह साल बहुत अच्छा रहेगा। 

स्वास्थ्य: यह साल मेष राशि वालों को थोड़ा ध्यान देना होगा, आपको पेट और लीवर से संबंधित परेशानियां हो सकती हैं गुरु नीच का होने के कारण, खास तौर पर अपने स्वास्थ्य का बहुत ध्यान रखना है। अप्रैल तक आपको ज्यादा ध्यान रखना होगा; तला हुआ ना खाए, फल, जूस व वेजिटेबल सूप यह सारी चीजें आप खा सकते हैं। 

विधार्थीयों के लिए भी यह साल बहुत अच्छा है, स्टूडेंट्स हनुमान जी की पूजा करें। 

क्या करे: अपने डाक्यूमेंट्स और आपके लिए जो मूल्यवान वस्तुएं हैं उनका ध्यान रखें, यात्रा के दौरान आपके डॉक्यूमेंटस गुम हो सकते हैं। साल में ८ बार हनुमान जी को चोला चढ़ाएं और लाल फलों का दान करें। 

शुभ रंग: लाल 

शुभ अंक: १,९

 

 

वृषभ राशि:

यह साल पिछले साल की तुलना में बहुत अच्छा रहेगा। इस साल भाग्य आपका पूरा साथ देगा, शुरू के 4 महीने गुरु और शनि आपके भाग्य में बैठे हुए हैं, तो इस समय आप नौकरी में बदलाव और प्रमोशन के लिए प्रयास कर सकते हैं। आपको विदेशों से भी लाभ होने का योग है । प्रॉपर्टी/जमीन से जुड़े काम करने वालों को सफलता मिलेगी।

अप्रैल-जून: यह समय आपके लिए अच्छा है, इस समय आपके फाइनेंशियल रिसोर्सेस बढ़ेंगे, आपके रिलेशनशिप अच्छे होंगे, आप वाहन भी खरीद सकते हैं। 

जून-अक्टूबर: शनि और कुछ ग्रह वक्रीय होने के कारन इस दौरान आपको ध्यान रखना है, इस समय आप कोई बड़ा निर्णय ना लें। थोड़ा शांति से काम ले, कोई बड़ा निवेश ना करें, कोई बड़ा खर्चा भी होने की भी सम्भावना है। प्लानिंग से चलें, अगर आप मेहनत करेंगे तो यह साल आपके लिए बहुत अच्छा रहेगा।  

क्या करे: अपने देवी देवता/इष्ट-देव व कुलदेवी की पूजा करें और माता लक्ष्मी को अनार चढ़ाएं। अपनी माता-बहनों का आदर करे, यह आपके भाग्य को प्रबल करेगा। समय के पाबंद रहें, संयम रखें। स्वास्थ का भी ध्यान रखें और अपनी वाणी पर संयम रखें, अच्छी बातें करें। 

शुभ रंग: हल्का और चमकदार गुलाबी रंग अच्छा रहेगा

शुभ अंक: 3, 7

मिथुन राशि:

मिथुन राशि के लोग धार्मिक प्रवृत्ति के व संयम रखने वाले होते हैं।  मुख्य ग्रह बुध होने के कारण राशि के स्वामी गणेश जी है, और यह साल 2021 भी गणपति को समर्पित है। गणपति जी की आराधना करें भाग्य प्रबल रहेगा। 

साल के शुरू में शनि और गुरु अष्टम में होने के करण शुरू के ४ महीने आपको थोड़ा सा ध्यान देकर चलना है। आप अपने मन में कुछ खिन्नता महसूस कर सकते हैं। 

जनवरी-अप्रैल/अक्टूबर-नवम्बर: हो सकता है उम्मीदें के अनुरूप काम ना हो, मगर धैर्य रखें, संयम से काम ले, समय को व्यतीत होने दें। हर व्यक्ति पर भरोसा ना करे, रिश्तो में कड़वाहट आ सकती हैं। सेहत के लिए अच्छा नहीं है। चिंता, तनाव ना रखे, व्यर्थ की बहस से बचे। समय के साथ रिश्तों में धीरे धीरे बदलाव आएगा, अंधविश्वास न करें।  

अप्रैल-अक्टूबर: समय आपका अच्छा है भाग्य उदय होगा, फायदा हो सकता है। विदेश से लाभ, नौकरी में बदलाव, प्रमोशन और व्यापर में उन्नति संभव है। सफल शादी और अच्छा जीवन साथी मिलने का योग है। अच्छे कार्यो में समय व्यतीत करें।  

क्या करें: बुधवार को घर या मंदिर में गणपति जी के दर्शन करें, हरी दूर्वा चढ़ाएं, लड्डू का भोग लगाएं, “ॐ गं गणपतये नमः” का जाप करते रहें और समय शांति में निकाले। निश्चित ही आने वाला समय अच्छा रहेगा। 

शुभ रंग: हरा, नीला

शुभ अंक: २, ६

कर्क राशि:

कर्क राशि का स्वामी चंद्रमा है, अप्रैल तक का समय बहुत अच्छा है शनि और गुरु सप्तम में रहेंगे राहु एकादश में हैं, जीत का समय है, अच्छा समय है। 

जनवरी-अप्रैल / अक्टूबर-दिसंबर: मनोस्थिति भी सकारात्मक रहेगी, ऊर्जावान महसूस करेंगे। कोशिश करें की जीवन के महत्वपूर्ण-फैसले जैसे की व्यापार और नौकरी से सम्बंधित फैंसले इस समय में ही लें। श्रेष्ठ विकल्प का चुनाव करने के लिए सूर्य उपासना करें। बहुत सारे अच्छे विकल्प इस साल मिल सकते हैं। व्यक्तिगत जीवन में आप शांति बनाकर रखें, दूसरे व्यक्ति को भी समझने की कोशिश करें, तो आपको अच्छे परिणाम मिलेंगे। अप्रैल-अक्टूबर: गुरु अष्टम में आने के बाद यह समय ठीक-ठाक रहेगा । 

क्या करें: रुद्राभिषेक करना, शिव परिवार की पूजा करना अत्यंत शुभ है। प्रदोष के दिन आप गन्ने के रस से शिवजी का अभिषेक करें।  

शुभ रंग: सफ़ेद, लाल  

शुभ अंक: ४, ६

सिंह राशि:

सिंह राशि के स्वामी सूर्य हैं इस राशि के लोगों का व्यक्तित्व तेजस्वी होता है, साल 2021 आपके लिए बहुत शुभ रहेगा। 

जनवरी-मार्च / नवंबर-दिसंबर: समय ठीक रहेगा, मगर थोड़ी सी ऊर्जा में कमी महसूस करेंगे, काम में थोड़ी सी रुकावट होगी। शनि और गुरु षष्टम में हैं, शनि अच्छे हैं पर गुरु के षष्ठम में होने के कारण आप कोई भी निर्णय जल्दबाज़ी में न लें। मन खिन्न हो सकता है।अप्रैल-अक्टूबर: समय बहुत अच्छा रहेगा, जो आप चाहेंगे वह होने की संभावना है। व्यापार, लव लाइफ, वैवाहिक जीवन के लिए आपको पूरा सहयोग  मिलेगा और यह समय आपके लिए बहुत अच्छा रहने वाला है। सोच समझ कर निर्णय लें, सफलता अवश्य मिलेगी। विदेश यात्रा संभव है। 

क्या करें: चिंता ना करें, सूर्य की उपासना करें, घर में सूर्य कवच स्थापित करें। गायत्री मंत्र का जाप करें, मन में शांति रहेगी। रविवार को तांबे के बर्तन और गेहूं का दान करें, इससे आपका आत्मविश्वास काफी बढ़ेगा। रिश्तों में भाषा का ध्यान रखें, रिश्ते मधुर रहेंगे।  

शुभ रंग: लाल और पीला 

शुभ अंक: 1

कन्या राशि:

कन्या राशि के स्वामी बुध हैं आपका यह आने वाला साल 2021 बहुत अच्छा रहने वाला है।जनवरी-अप्रैल: गुरु और शनि दोनों ही आपके पंचम में है राहु नवें घर में है तो आप मजबूत महसूस करेंगे। साल की शुरुआत आपकी बहुत अच्छी रहेगी आपका समय अच्छा है अगर आप अच्छी योजना के साथ चलते हैं तो शुरू में ही आपको अच्छी सफलता मिलेगी। क्रिएटिव फील्ड जैसे लेखक, इंडस्ट्री से जुड़े लोग उनके लिए समय बहुत अच्छा है उपलब्धि मिल सकती है। विद्यार्थियों के लिए भी समय अच्छा है। धन के स्रोत खुलेंगे। अप्रैल-जून: थोड़ा सावधान रहें, जरुरी निर्णय ना करें, अगर करना है तो बहुत सोच समझकर करें, परिजनों से राय लें। सितम्बर-दिसंबर: लव-लाइफ/ पर्सनल-लाइफ/ मैरिड-लाइफ में आपके विचार मिलेंगे, साथ मिलेगा। स्वास्थ बहुत अच्छा रहेगा। 

क्या करें: गणपति की आराधना करें, गाय को चारा खिलाएं या सुहागन औरतों को बुधवार के दिन हरी साड़ी चूड़ियाँ, सुहाग का सामान दे, या कोई भी हरी सब्जी अपने घर लाना या दूसरों को देना बहुत शुभ होगा। 

शुभ रंग: स्लेटी, नीला

शुभ अंक: २, ८ 

तुला राशि:

2021 आपके लिए यह साल मिला जुला रहेगा ।

जनवरी-मार्च: शनि गुरु और राहु चौथे और आठवें स्थान में रहेंगे तो आप अपना और अपने परिवार जनों के स्वास्थ का विशेष ध्यान रखें। किसी के कहे सुने में ना आएँ, प्रैक्टिकल डिसीजन लें, सावधान रहें। बुजुर्गों और छोटे बच्चों का विशेष ध्यान रखें। नौकरी या व्यापार  में बदलाव थोड़ा सोच-समझकर करें या कुछ समय के लिए टाल दें। प्रॉपर्टी की खरीदी या प्रोफेशनल डिसीजन्स इस समय लें। आपकी समझदारी बढ़ेगी, स्थिति आपके लिए धीरे-धीरे सहज और सुख रूप में बदल सकती है। बहस से बचें, प्लानिंग के साथ चलते रहें, प्रोफेशनल लाइफ में भी ध्यान रखें कोई गंभीर फैसले ना लें। 

क्या करें: पूरे साल दुर्गा जी की पूजा करें, दुर्गा कवच व दुर्गा सप्तशती का पाठ करते हैं। अपने से बड़ी महिलाओं की रिस्पेक्ट करें तो आपके लिए आने वाला समय अच्छा रहेगा। भैरू जी के मंदिर भी जरूर जाएं और उन्हें कुछ भी मीठी चीज का भोग लगाएं तो राहु के दोष थोड़े कम होंगे।माता रानी की कृपा आप पर बनी रहे। 

शुभ रंग: पीला और हरा

शुभ अंक: ७ 

वृश्चिक राशि:

वृश्चिक राशि के देवता मंगल होने के कारन, इस राशि के लोग स्वभाव से ही ओजस्वी होते हैं।2021 आपके लिए मिला – जुला रहेगा, उथल – पुथल रहेगी।  केतु के प्रभाव के करण आपके विचार सकारात्मक – नकारात्मक रहेंगे। इस साल आपको गुरु और शनि संभालेंगे इनकी स्थिति आपकी कुंडली में अच्छी बनी हुई है, आपका साल अच्छा जाने वाला है। धन के लाभ होंगे, प्रोफेशनल लाइफ आपकी अच्छी रहेगी। डॉक्टर, इंजीनियर के लिए साल अच्छा रहेगा। अप्रैल-अक्टूबर: समय अच्छा रहेगा, जून के बाद विदेश के भी रास्ते खुलेंगे, नौकरी में अच्छा बदलाव संभव है।

क्या करें: शनि की स्थिति के करण आप अति-आत्मविश्वासी या ज़िद्दी हो सकते है, सबको साथ लेकर चलें, क्रोध ना करें, सबकी सुने तो अच्छा रहेगा। परिवार जनों के साथ बहस में ना जाए, उनको समझें, दूसरों को भी तवज्जो दें, तो आपके रिश्तों में प्यार बना रहेगा। कलह से बचें, लड़ाई में ना जाएं। स्वास्थ का ध्यान रखें। अपने गुरु की पूजा-अर्चना करें, गुरु का ध्यान रखें। बड़े बुजुर्गों का आदर करें। अपने इष्ट की आराधना करें, आपकी सफलता निश्चित है। हनुमान जी की पूजा करें, हनुमान चालीसा के नित्य पाठ करें। मंगलवार व शनिवार को सुंदरकांड का पाठ करें,  बंदरों को केला खिलाएं।

शुभ रंग: लाल, नारंगी 

शुभ अंक: १,९ 

 

धनु राशि:

साल 2021 धनु राशि वालों के लिए अति उत्तम है। अगर आप कोई बड़ा निर्णय लेना चाहते हैं, तो इस साल आप कोशिश कर सकते हैं।  अगर ग्रहों की स्थिति देखें तो शनि व गुरु दोनों ही दूसरे घर में हैं, और राहु छठे घर में हैं जो काफी बेहतरीन योग बना रहे हैं। आप आत्मविश्वास से भरपूर और सकारात्मक महसूस करेंगे, परिजनों व सहकर्मियों का भी बहुत सहयोग मिलेगा। अपने से उच्च वर्गीय लोगों से मेल जोल बढ़ेगा। नया वाहन या घर खरीदना चाह रहे हैं या जॉब/बिजनेस में कुछ बड़े निर्णय लेना चाह रहे हैं तो यह समय आपके लिए उत्तम है। 

क्या करें: भगवान कृष्ण की व अपने गुरु की पूजा करें, कृष्ण भक्ति आपके लिए अच्छी रहेगी। केसर का तिलक जरूर लगाएं, यह आपके लिए बहुत ही शुभ रहेगा। 

शुभ रंग: भगवा, नारंगी

शुभ अंक: ३, ६ 

मकर राशि:

यह साल आपके लिए अति शुभ है। गुरु और शनि स्वयं के घर में ही हैं, आपकी स्थिति मजबूत रहेगी। नीच भंग राजयोग बना हुआ है, शनि अच्छे फल देगा, और गुरु भी परेशान नहीं करेंगा। राहु पांचवे घर में हैं जो आपको पूरे साल सकारात्मक ऊर्जा का अनुभव कराएँगे। पेशेवर तौर पर आपको बहुत सारे अच्छे विकल्प मिलेंगे।

अप्रैल-अक्टूबर: सकारात्मक रूप से कुछ अलग करने की चाह रहेगी। आपके रिश्ते अच्छे रहेंगे, शादी के लिए समय काफी अच्छा है। एक बात का विशेष ध्यान रखें की आप हद से ज्यादा भावुक ना हों, भावनात्मक रूप से थोड़ा सा दृढ़ रहें, स्वास्थ का ध्यान रखें, रक्त-चाप और तंत्रिका तंत्र (nervous system) का ध्यान रखें। विदेश यात्राओं का योग है। 

अक्टूबर-नवंबर: समय खास नहीं है, शांति से व्यतीत करें।   

क्या करें: शनि देवता, हनुमान जी की पूजा व दर्शन करें, यह आप को आगे बढ़ाने में सहायक होगा। 

शुभ रंग: पीला, सफेद

शुभ अंक: १, ८

कुंभ राशि:

2021 में शनि और गुरु दोनों ही आपके बारवें घर में हैं जिसे हम बहुत अच्छी स्थिति नहीं कह सकते हैं। राहु भी चौथे घर में होने के कारण जनवरी-अप्रैल आपको बहुत सतर्कता से निकालना होगा, जल्दबाज़ी ना करें, किसी भी तरह की चिंता ना करें, कभी-कभी घबराहट हो सकती है। समय को अच्छा बनाने के लिए कर्म पर विश्वास रखें अच्छे कर्म करें और अपनी सोच अच्छी रखें। अपने इष्ट का ध्यान करें। 

अप्रैल-अक्टूबर: आपका समय अच्छा होगा, आत्मविश्वास से भरे रहेंगे, परिजनों का सहयोग मिलता रहेगा और प्रोफेशनली भी अच्छे विकल्प मिलेंगे।   विदेश से अच्छी खबर मिल सकती है, कार्य में बढ़ोतरी होगी। लम्बे समय से चल रही योजनाएं पूरी होंगी, रुके हुए काम बनेंगे। मानसिक स्थिति पर विशेष ध्यान देना है। खर्चे बढ़ सकते हैं, ध्यान रखें।धन का सदुपयोग करें, तो आपका पैसा व्यर्थ नहीं होगा और गलत कामों में व्यय नहीं होगा। 

क्या करें: समय अच्छा है आपको विशेषकर शनि देवता के दर्शन करने हैं शनि पूजा करनी है। समय का सदुपयोग करें। सकारात्मक रहें, सकारात्मक सोचें। नियमित रूप से व्यायाम, योग व ध्यान करें।  नियमबद्ध रहें तो शनि देव की कृपा आप पर बनी रहेगी।     

शुभ रंग: नीला और पीला

शुभ अंक: १, ७

मीन राशि:

2021 में मिलाजुला असर रहेगा, पॉजिटिव वातावरण रहेगा। शनि और गुरु की स्थिति एकादश में रहेगी, राहु तृतीय में रहेगा यह आपके लिए अच्छी है।  रुके हुए काम बने रहेंगे, साल की शुरुआत अच्छी होगी। आपकी योजनाएं सफल होंगी, न्यू वेंचर, नए काम अच्छे रहेंगे। नए लोगों से मिलेंगे, नई प्लानिंग हो सकती हैं नए लोगों से एसोसिएशन हो सकता है।  विदेश से फायदा हो सकता है। इस समय खर्चे बढ़ सकते हैं नया वाहन, घर खरीद सकते हैं। थोड़ा ध्यान रखें भावनाओं, वाणी को कंट्रोल में रखें। 

अप्रैल के बाद शादी का योग है, लव-लाइफ अच्छी रहेगी। खर्चे सही जगह पर हो। 

क्या करें: त्वचा और पेट से सम्बंधित बीमारियाँ हो सकती हैं, विशेष ध्यान रखें। शिव पूजा करें, रुद्राभिषेक करें, यह आपके रुके हुए कामों को आगे बढ़ाने में सहायक होगा। हो सके तो अपने वजन के बराबर पांच या सात अनाजों को मिलाकर दान करें। वाणी पर संयम रखें। 

शुभ रंग: स्लेटी, काला

शुभ अंक: ३, ५